भारत के लिए आज का पंचांग

पंचांग की तारीख : गुरुवार, सितंबर 30, 2021
< पिछला दिन    आज का दिन    अगला दिन >
पंचांग
तिथि नवमी - 10:10 पी एम तक
नक्षत्र पुनर्वसु - 01:33 ए एम अक्टूबर 1 तक
करण तैतिल - 09:26 ए एम तक, गर - 10:10 पी एम तक
योग परिघ - 06:51 पी एम तक
पक्ष कृष्ण
सूर्य तथा चंद्रमा
सूर्योदय 06:17 ए एम
सूर्यास्त 06:15 पी एम
चन्द्रोदय 01:03 ए एम अक्टूबर 1
चन्द्रास्त 02:12 पी एम
मध्याह्न 12:16 पी एम
संवत के साथ चंद्र मास
मास (पूर्णिमांत) आश्विन
मास (अमांत) भाद्रपद
शक सम्वत 1943 प्लव
विक्रम सम्वत 2078
कलियुग 5122
राशि तथा अयन
चन्द्र राशि मिथुन - 07:05 पी एम तक
सूर्य राशि कन्या
अयन दक्षिणायण
दिशा शूल दक्षिण
दिन की अवधि 11 Hour 57 Minutes
पंचांग क्या है?

पंचांग एक परिकलित कैलेंडर है जिसका उपयोग किसी विशेष दिन में शुभ समय की जांच के लिए किया जाता है जो पांच तत्वों पर आधारित होते हैं। पंचांग को "पंच" + "अंग" में विभाजित किया जा सकता है, जिसका अर्थ है "पांच" + "भाग"।
ये पांच तत्व हैं:
1. "तिथि" जिसका अर्थ है तारीख, यह धन देता है।
2. "नक्षत्र" जिसका अर्थ है उस दिन तारा, यह पापों को दूर करता है
3. "करण" जिसका अर्थ है तिथि का आधा भाग, यह कर्मों में सफलता देता है
4. "योग" जिसका अर्थ है भाग्य, यह रोगों को ठीक करता है
5. "वार" जिसका अर्थ है सप्ताह का दिन, यह दीर्घायु को बढ़ाता है
तो जो उपरोक्त सभी को जानकर अपना कर्म करता है, उसे दिव्य आशीर्वाद प्राप्त होगा।